चैट जीपीटी और गूगल बार्ड में अंतर (2023 with table) | 10 Difference Between Chat GPT and Google Bard in Hindi

चैट जीपीटी और गूगल बार्ड में अंतर, Difference Between Chat GPT and Google Bard in Hindi – ChatGPT और Google BARD दो अलग-अलग लैंग्वेज मॉडल हैं जिन्हें ह्यूमन लाइक टेक्स्ट को समझने और उत्पन्न करने के लिए डिज़ाइन किया गया है। ChatGPT को OpenAI द्वारा विकसित किया गया है और यह अपनी कन्वर्सेशनल क्षमताओं के लिए जाना जाता है, जो उपयोगकर्ता के प्रश्नों का विस्तृत और जानकारीपूर्ण उत्तर प्रदान करता है।

दूसरी ओर, Google BARD, जिसे चैटबॉट असिस्टेड रिट्रीवल ऑफ़ डेटा के रूप में भी जाना जाता है, Google द्वारा विकसित एक लैंग्वेज मॉडल है जो बड़े डेटा स्रोतों से विशिष्ट जानकारी पुनर्प्राप्त करने पर केंद्रित है। जबकि दोनों मॉडल अपने-अपने क्षेत्रों में उत्कृष्ट हैं, चैटजीपीटी इंटरैक्टिव और आकर्षक बातचीत के लिए अधिक उपयुक्त है, जबकि Google BARD को कुशल डेटा पुनर्प्राप्ति और विश्लेषण के लिए डिज़ाइन किया गया है।

चैटजीपीटी क्या है? (What is ChatGPT?)

चैटजीपीटी (जनरेटिव प्री-ट्रेन्ड ट्रांसफॉर्मर 3) ओपन ए.आई. द्वारा एक बड़े पैमाने पर विकसित का भाषा मॉडल है, जो मशीन लर्निंग का उपयोग करके यूजर के सवालों का जवाब मानव-समान भाषा में दे सकता है।

यह ट्रांसफॉर्मर आर्किटेक्चर पर आधारित है, जो इसे पूछे गए प्रश्न का संदर्भ समझने में और उसको प्रोसेस करके पूछे गए प्रश्न के संदर्भ के आधार पर सटीक जवाब देने में मदद करता है।

चैटजीपीटी को बहुत ज्यादा डेटा पर प्रशिक्षित किया गया है, जिससे इसको यह क्षमता मिल जाती है कि वो चैटबॉट्स, ग्राहक सेवा, भाषा सीखने, और भी विभिन्न संदर्भों में मानव-सामान उत्तर दे सकता है ।

चैटजीपीटी प्राकृतिक भाषा प्रसंस्करण में एक महत्वपूर्ण उपलब्धि है, और इसके अनुप्रयोग विविध हैं और इनकी संख्या तेजी से बढ़ रही हैं।

गूगल बार्ड क्या है? (What is Google Bard in Hindi?)

बार्ड गूगल द्वारा विकसित की गयी नई आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस तकनीक है।

बार्ड एक बड़े पैमाने का भाषा मॉडल है जिसको बहुत सारे टॉपिक पर नैचुरल भाषा में बात करने के लिए डिज़ाइन किया गया है

बार्ड या गूगल लाएमडा मशीन लर्निंग पर आधारित है, उसको इंटरनेट के डेटा से ट्रेन किया गया है ताकि वो यूजर प्रश्नों को समझने और उनका जवाब देने की अपनी क्षमता में सुधार करता रहे।

गूगल अपनी इस टेक्नोलॉजी को विभिन्न एप्लीकेशन में यूज करने की योजना बना रहा है, जिसमे गूगल असिस्टेंट और अन्य डायलॉग वाले सिस्टम भी शामिल है।

ए.आई. और मशीन लर्निंग को अक्सर एक ही समझा जाता है पर दोनों में अंतर है, अंतर जानने के लिए ये पोस्ट पढ़े –ए.आई. और मशीन लर्निंग में अंतर | 9 Differences between A.I. and Machine Learning

चैट जीपीटी और गूगल बार्ड में अंतर (Chat GPT vs Google Bard in Hindi)

तुलना का आधार
Basis of Comparison

चैट जीपीटी
Chat GPT

गूगल बार्ड
Google Bard

प्रशिक्षण डेटा
(Training data)

चैटजीपीटी को टेक्स्ट और कोड के डेटासेट पर प्रशिक्षित किया गया है

जबकि Google बार्ड को टेक्स्ट, कोड और वास्तविक दुनिया की जानकारी के डेटासेट पर प्रशिक्षित किया जाता है। इसका मतलब यह है कि Google बार्ड के पास व्यापक ज्ञान है और वह अधिक व्यापक और सूचनात्मक प्रतिक्रियाएँ उत्पन्न कर सकता है।

मॉडल का आकार
(Model size)

ChatGPT एक 1.5B पैरामीटर मॉडल है

Google Bard एक 137B पैरामीटर मॉडल है। इसका मतलब यह है कि Google बार्ड में सीखने की अधिक क्षमता है और वह अधिक जटिल और सूक्ष्म प्रतिक्रियाएँ उत्पन्न कर सकता है।

Internet तक पहुंच
(Access to Internet Search)

ChatGPT यूजर को जो भी इनफार्मेशन देता है वो अपने डेटाबेस में मौजूद जानकारियों के हिसाब से देता है, वो किसी चीज़ को सर्च करने के लिए इन्टरनेट पर नही जाता है

Google Bard के पास Google search तक पहुंच है, जिसका अर्थ है कि यह वास्तविक दुनिया से जानकारी तक पहुंच और उसे प्रोसेस कर सकता है। यह Google Bard को ChatGPT की तुलना में अधिक सटीक और updated जानकारी प्रदान करने की अनुमति देता है।

सृजनात्मक क्षमताएं (Generative capabilities)

ChatGPT आपके प्रश्नों का जानकारीपूर्ण तरीके से उत्तर देने में भी बेहतर है। भले ही वो थोड़े कठिन, चुनौतीपूर्ण, अजीब और ओपन एंडेड क्यू न हो।

Google बार्ड टेक्स्ट सामग्री के विभिन्न रचनात्मक टेक्स्ट प्रारूप, जैसे कविताएं, कोड, स्क्रिप्ट, संगीत, ईमेल, पत्र इत्यादि उत्पन्न करने में बेहतर है

निरंतरता
(Continuity)

ChatGPT में यह अधिक संभावना है कि आपने पहले जो कहा है उसे भूल जाएं और वापस शुरुआत पर चले जाएं।

Google Bard बातचीत को बनाए रखने और पिछले संदर्भ पर नज़र रखने में बेहतर है

पूर्वाग्रह
(Bias)

ChatGPT, अपने प्रशिक्षण डेटा के पूर्वाग्रहों को अपने रिजल्ट में रिफ्लेक्ट करने की अधिक संभावना रखता है।

Google Bard के अपनी प्रतिक्रियाओं में पक्षपाती होने की संभावना कम है, क्योंकि इसे टेक्स्ट और कोड के अधिक विविध डेटासेट पर प्रशिक्षित किया गया है।

गोपनीयता
(Privacy)

चैटजीपीटी अपने उपयोगकर्ताओं के बारे में व्यक्तिगत जानकारी एकत्र और संग्रहीत कर सकता है, जिसका उपयोग विज्ञापन या अन्य उद्देश्यों के लिए किया जा सकता है।

Google बार्ड गोपनीयता के प्रति अधिक जागरूक है, क्योंकि यह अपने उपयोगकर्ताओं के बारे में कोई भी व्यक्तिगत जानकारी एकत्र या संग्रहीत नहीं करता है।

उपलब्धता
(Availability)

ChatGPT किसी भी व्यक्ति के लिए उपलब्ध है जो इसका उपयोग करना चाहता है।

Google Bard अभी बीटा परीक्षण में है और अब आम  जनता के लिए उपलब्ध है।

लागत
(Cost)

ChatGPT भी फ्री है लेकिन प्रीमियम फीचर यूज़ करने के लिए आप को सदस्यता शुल्क की आवश्यकता हो सकती है।

Google Bard का उपयोग निःशुल्क है

लाइसेंसिंग
(Licensing)

चैटजीपीटी को एक अलग लाइसेंस के तहत लाइसेंस दिया जा सकता है, जो इसके व्यावसायिक उपयोग को प्रतिबंधित कर सकता है।

Google Bard को Apache 2.0 लाइसेंस के तहत लाइसेंस प्राप्त है, जो व्यावसायिक उपयोग की अनुमति देता है।

(Conclusion Difference Between Chat GPT and Google Bar)

ChatGPT और Google BARD क्रमशः OpenAI और Google द्वारा विकसित दो अलग-अलग भाषा मॉडल हैं। चैटजीपीटी बातचीत में शामिल होने और जरूरी प्रतिक्रियाएं उत्पन्न करने के लिए बहुत अच्छा है, जबकि Google BARD विशाल डेटासेट से विशिष्ट जानकारी प्राप्त करने में उत्कृष्ट है।

प्रत्येक मॉडल की अपनी अनूठी ताकत और अनुप्रयोग होते हैं, जो उन विविध तरीकों को प्रदर्शित करते हैं जिनसे एआई तकनीक नेचुरल लैंग्वेज की अपनी समझ को बढ़ा सकती है। जैसे-जैसे नेचुरल लैंग्वेज प्रोसेसिंग का क्षेत्र विकसित हो रहा है, ये मॉडल अपने आप को अपडेट कर महत्वपूर्ण योगदान दे रहे हैं जो भविष्य में अधिक उन्नत और बहुमुखी भाषा एआई सिस्टम के लिए मार्ग प्रशस्त करते हैं।

Leave a Comment