Difference Between Factory, Industry and Company with example in Hindi

Difference Between Factory, Industry and Company with example in Hindi

Difference Between Factory, Industry and Company in Hindi – हम में से लगभग सभी ही ऐसे होंगे जिन्होंने अक्सर व्यापार से जुड़े इस तरह के कई शब्द सुने ही होंगे और अपनी रोजमर्रा की जिंदगी में इनका उपयोग भी जरूर करते होंगे लेकिन ये शब्द आपस में इतने ज्यादा सामान्य हैं कि हम इनके बीच के अंतर को आसानी से समझ ही नहीं पाते हैं और अक्सर भ्रमित ही रहते हैं, क्या आप में से किसी को इन सभी शब्दों के बीच के अंतर यानी कि Factory, Industry और Company के बीच क्या अंतर होता है? के बारे में पता है, शायद से नही और मुझे तो लगता है की अब काफी सारे लोग तो इस सोच में पड़ गए होंगे की क्या Factory Industry और Company के बीच अंतर होता है? जी बिलकुल इनमे अन्तर है

वैसे तो हम सभी को इन सभी शब्दों के बीच कोई अंतर नज़र नही आता लेकिन अगर थोड़ा ध्यान दिया जाए तो समझ में आएगा की इनमें थोड़ा बहुत अंतर तो है, इसीलिए उसी अंतर को मैं आज के इस लेख Difference Between Factory Industry And Company in Hindi में आप सबके सामने लाने वाला हूं, जिससे की आपको सब कुछ पूरी तरह से Clear हो जाएगा

तुलना सारणी

पहले मैं आपको Factory Industry Aur Company Mein Kya Antar Hai इसके बारे में एक Tabular Form के माध्यम से समझाने वाला हूं, तो आइए शुरू करते हैं –

                Factory                  Industry                Company
Factory एक साइट या स्थान को कहा जाता है जहाँ किसी व्यवसाय (Business) को बनाने की प्रक्रिया की जाती है। उद्योग (Industry) व्यवसायों (Businesses) का ही एक संग्रह है जो समान सामग्री और सेवा प्रदान करता है जैसे: Beauty Industry, Automobile Industry आदि। एक कंपनी (Company) व्यक्तियों के संघ या फिर उनके संग्रह को कहा जाता है।
Factory को हम Industry का ही एक अंग कह सकते हैं। उद्योग (Industry) का क्षेत्र काफी विस्तृत मात्रा में है। कंपनी (Company) को भी हम Industry का ही एक हिस्सा कह सकते हैं।
Factory के लिए उपलब्ध Scope Industry की तुलना में बहुत कम है। Industry के लिए उपलब्ध Scope, Factory की तुलना में बहुत अधिक है। Factory और Industry की तरह के उत्पाद और सेवाएं ही इनकी Manufacturing में शामिल होते हैं।
Factory से अर्थव्यवस्था (Economy) को आगे बढाने में मदद मिलती है। Industry अर्थव्यवस्था (Economy) को बढ़ाने के लिए Factory का उपयोग करता है। और साथ ही यह उस देश के लोगों के जीवन स्तर को भी सुधारने में मदद करता है। Company का विभिन्न रूप उसके पंजीकरण और संरचना पर निर्भर करता है।
Factory केवल Products के Production से ही संबंधित होती है। Industry के भीतर उत्पादन (Production) और सेवाएं दोनों शामिल होती हैं। किसी भी एक Company को कानून के आगे केवल एक व्यक्ति के रूप में ही माना जाता है।

फैक्ट्री किसे कहा जाता हैं? (Factory Kise Kahate Hain or What Do You Mean By Factory)

एक Factory उत्पादन (Production) या एक निर्माण सुविधा के लिए Plant की एक साइट होती है, जिसमें आम तौर पर भवन और उपकरण या मशीनरी शामिल होती है, जहां पर Labour उत्पाद (Products) बनाने का काम और एक माल या उत्पाद (Product) को दूसरे में देने वाली मशीनरी को नियंत्रण करती है। कई आधुनिक या वर्तमान Factory में विशाल भंडारगृह (Storerooms) या गोदाम (Warehouses) जैसे आवास होते हैं जिनमें निर्माण के लिए भारी उपकरण शामिल  होते हैं।

बड़ी Factories से उत्पाद (Products) को ले जाने के लिए परिवहन के विभिन्न साधनों, कुछ राजमार्ग, इसके अलावा पानी के लदान और वितरण के साथ, रेल सेवाओं के साथ ट्रैक करने के लिए भी जरूरत पड़ती हैं। एक अर्थव्यवस्था (Economy) में सुधार करने वाली प्रगति उत्पन्न करने के लिए Factory पूर्ण रूप से उत्तरदायी होती हैं। Factories अर्थव्यवस्था या व्यावसायिक औद्योगिक क्षेत्रों Business Industrialized Zones का ही एक हिस्सा होती हैं।

उद्योग (Industry) किसे कहते हैं? (Industry Kya Hoti Hai? or What Do You Mean By A Industry)

एक Industry एक प्रकार की ऐसी खंड है जो किसी अर्थव्यवस्था (Economy) द्वारा निहित (Implied) उत्पादों (Products) या संबंधित सेवाओं (Services) को बनाने का काम करती है। जब एक विशाल व्यवसाय सेट में राजस्व (Revenue) और लाभ सृजन के कई आधार या केंद्र होते हैं, तो इसका Evaluation विभिन्न Industries में प्रभावी होने के लिए किया जाता है। विकसित Industry ने निर्माण और Labour की मुख्य इकाई को परिवर्तित कर दिया। एक Industrial Culture में, Industry निवासियों या आबादी के मुख्य भाग की सेवा करती है।

एक विशिष्ट राज्य की अर्थव्यवस्था (Economy) के संदर्भ में, लोग Industry के एक क्षेत्र से दूसरे क्षेत्र में आगे बढ़ते जा रहे हैं। Industries अर्थव्यवस्था में प्रगति को रोजगार देती है, और जिसे कई तरह के Sector के आधार पर भी वर्गीकृत किया जाता है, जो की इस प्रकार हैं:

  1. Primary Sector: जिसमें खेती, खनन (mining) और लॉगिंग शामिल होती है और इसमें कच्चे माल का निष्कर्षण (Extraction) और उत्पादन शामिल है।
  2. Secondary Sector: इसमें ऐसी Factories शामिल होती हैं जो Primary Sector के उत्पादों (Products) को संसाधित करते हैं।
  3. Tertiary Sector: इस क्षेत्र में वे लोग शामिल हैं जो शिक्षक, डॉक्टर, वकील, Sales Clerk, नर्स और अन्य सेवा प्रदाता जैसी सेवाएं प्रदान करते हैं।
  4. Quaternary Sector: इसमें वे लोग शामिल होते हैं जो वैज्ञानिक अनुसंधान (Scientific Research) और नई तकनीक के विकास में शामिल हैं।

कंपनी किसे कहा जाता हैं? (Company Kise Kahate Hain? or What Do You Mean By Company In Hindi)

एक कंपनी (Company) ऐसे व्यक्तियों से बनी होती है जो उस Company के सभी उद्देश्यों को पूरा करने के लिए एक साथ मिलकर के काम करते हैं। Companies भी कई प्रकार की हो सकती है जैसे: Corporation Company, Partnership Company, Association Company, Private Limit और Public Limited Company,

Company के विभिन्न रूप उसके पंजीकरण और संरचना पर निर्भर करता है। कानून के अंदर, Company को एक व्यक्ति के रूप में माना जाता है जैसे की:-

  • Axis Bank
  • Infosys
  • Tata Steel
  • Tech Mahindra

ये सभी ही Company के उदाहरण हैं और कानून के भीतर ये सभी ही एक व्यक्ति की तरह मानी जाती हैं।

फैक्ट्री और इंडस्ट्री के बीच मुख्य अंतर क्या है? (Key Difference Between Factory And Industry in Hindi or Factory Vs Industry In Hindi)

कोई भी Factory एक प्रकार की साइट या स्थान है जहाँ व्यवसाय (Business) बनाने की प्रक्रिया होती है जबकि Industry व्यवसायों (Businesses) का एक संग्रह है जो समान सामग्री और सेवा (Service) प्रदान करता है जैसे: Beauty Industry और Automobile Industry आदि।

Factory Industry का ही एक अंग है जबकि Industry का क्षेत्र बहुत विस्तृत होता है। Factory के माध्यम से अर्थव्यवस्था (Economy) में प्रगति होती है और Industry अर्थव्यवस्था के लिए कारखाने का उपयोग करता है, और जिसके साथ ही साथ उस देश के लोगों के जीवन स्तर को बेहतर बनाने में भी मदद करता है।

Factory केवल उत्पाद (Products) के उत्पादन (Production) से संबंधित होती है, जबकि Industry में उत्पादन (Production) और सेवाएं (Services) दोनों शामिल होती हैं।

इंडस्ट्री और कंपनी के बीच मुख्य अंतर क्या है? (Main Differences Between Industry And Company or Industry Vs Company In Hindi)

Company जो है वो Industry का ही एक हिस्सा होती है यानी कई Companies ऐसी Industries में शामिल होती हैं जो समान उत्पादों (Products) और सेवाओं (Services) के निर्माण में शामिल है।

Industries अपने आप में पूर्ण है और Industry हमेशा Company से बड़ी होती है। Company व्यक्तियों का एक संघ या संग्रह होता है जबकि Factory एक ऐसी सुविधा है जहां उत्पाद (Products) बनाए जाते हैं,

निष्कर्ष (Conclusion)

तो इन्ही सब बातों के साथ आज का यह लेख What Is The Difference Between Factory, Industry And Company In Hindi यही पर समाप्त होता है, और मैं यही उम्मीद करता हूं की आप सभी को Factory, Industry Aur Company Mein Kya Antar Hai In HINDI अच्छी तरह से समझ में आ ही गया होगा, और अब आपको इन तीनों ही शब्दों के बीच के अंतर को समझने में कोई दिक्कत नही होगी, लेकिन यदि फिर भी आपके मन में अभी भी कोई प्रश्न उठ रहा है तो आप उसे भी मुझसे Comment करके ज़रूर पूछ सकते हैं।

Leave a Comment