फिल्म ग़दर और ग़दर 2 में अंतर (Aug 2023 with table) | 10 Difference Between Gadar and Gadar 2

फिल्म ग़दर और ग़दर 2 में अंतर,  Difference Between Gadar and Gadar 2 -आखिरकार आज वो दिन आ ही गया जब बहु चर्चित फिल्म ग़दर 2 आज के दिन रिलीज़ होने जा रही है। ग़दर 2 फिल्म ग़दर फिल्म जो की साल 2001 में रिलीज़ हुई थी उसी का सीक्वल है!

इस लेख में, हम गदर और गदर 2 के बीच के अंतरों पर करीब से नज़र डालेंगे। हम प्रत्येक फिल्म की समय अवधि, सेटिंग, पात्र, कथानक, थीम, एक्शन सीक्वेंस, दृश्य प्रभाव, संगीत, निर्देशक और रिलीज की तारीख पर चर्चा करेंगे। हम दोनों फिल्मों की आलोचनात्मक और व्यावसायिक प्रतिक्रिया की तुलना भी करेंगे। तो बने रहे हमारे साथ आर्टिकल के अंत तक –

गदर एक प्रेम कथा और गदर 2 अब तक की सबसे लोकप्रिय हिंदी फिल्मों में से दो हैं। 2001 में रिलीज़ हुई पहली फिल्म, एक सिख किसान तारा सिंह (सनी देयोल) की कहानी बताती है, जिसे एक मुस्लिम महिला सकीना (अमीषा पटेल) से प्यार हो जाता है।

दोनों अपने धार्मिक मतभेदों के बावजूद शादी कर लेते हैं, लेकिन उनकी खुशी अल्पकालिक होती है जब भारत का विभाजन उन्हें अलग होने के लिए मजबूर करता है। 20 साल बाद, तारा सिंह सकीना और उनके बेटे, चरणजीत (उत्कर्ष शर्मा) को खोजने के लिए पाकिस्तान लौटता है। वह सकीना के साथ फिर से मिल जाता है, लेकिन उनकी खुशी एक बार फिर खतरे में पड़ जाती है जब चरणजीत का पाकिस्तानी सैनिकों द्वारा अपहरण कर लिया जाता है। तारा सिंह को अपने बेटे को बचाने और उसे भारत वापस लाने के लिए समय के विरुद्ध दौड़ लगानी होगी।

गदर 2 पहली फिल्म का सीक्वल है, जो 1971 के भारत-पाकिस्तान युद्ध के 20 साल बाद पर आधारित है। तारा सिंह अपने बेटे चरणजीत को भारत वापस लाने के लिए पाकिस्तान लौटता है। उनके साथ उनकी पत्नी सकीना और उनकी बहू अमृता (सिमरत कौर) भी शामिल हैं। फिल्म बदला लेने, मोचन और देशभक्ति के विषयों की पड़ताल करती है। यह कहानी है कि कैसे तारा सिंह को अपने बेटे को भारत वापस लाने और अपने परिवार को युद्ध के खतरों से बचाने के लिए सभी बाधाओं को पार करना होगा।

गदर फिल्म के बारे में? (About Gadar Film)

गदर एक प्रेम कथा 2001 की भारतीय हिंदी भाषा की रोमांटिक पीरियड एक्शन ड्रामा फिल्म है, जो शक्तिमान तलवार द्वारा लिखी गई कहानी पर अनिल शर्मा द्वारा निर्देशित है और 1947 में भारत के विभाजन के दौरान सेट की गई थी। बूटा सिंह के जीवन पर बनी इस फिल्म में अमरीश पुरी और लिलेट दुबे के साथ सनी देओल और अमीषा पटेल मुख्य भूमिका में हैं। एक बाल कलाकार के रूप में शर्मा के बेटे उत्कर्ष ने देओल और पटेल के बेटे की भूमिका निभाई। इस भूमिका के लिए ऑडिशन देने वाली 500 लड़कियों में से पटेल को सकीना की भूमिका मिली।

फिल्म अमृतसर के एक सिख किसान तारा सिंह (सनी देयोल) की कहानी बताती है, जिसे लाहौर की एक मुस्लिम महिला सकीना (अमीषा पटेल) से प्यार हो जाता है। दोनों अपने धार्मिक मतभेदों के बावजूद शादी कर लेते हैं, लेकिन उनकी खुशी अल्पकालिक होती है जब भारत का विभाजन उन्हें अलग होने के लिए मजबूर करता है। तारा सिंह को सकीना को पाकिस्तान में छोड़ने के लिए मजबूर होना पड़ता है, जबकि वह भारत चला जाता है।

20 साल बाद, तारा सिंह सकीना और उनके बेटे, चरणजीत (उत्कर्ष शर्मा) को खोजने के लिए पाकिस्तान लौटता है। वह सकीना के साथ फिर से मिल जाता है, लेकिन उनकी खुशी एक बार फिर खतरे में पड़ जाती है जब चरणजीत का पाकिस्तानी सैनिकों द्वारा अपहरण कर लिया जाता है। तारा सिंह को अपने बेटे को बचाने और उसे भारत वापस लाने के लिए समय के विरुद्ध दौड़ लगानी होती है।

गदर: एक प्रेम कथा ने बॉक्स ऑफिस पर जबरदस्त सफलता हासिल की और 2001 की सबसे ज्यादा कमाई करने वाली हिंदी फिल्म बन गई। फिल्म को इसके एक्शन दृश्यों, प्रदर्शन और संगीत के लिए सराहा गया। इसे भारत के विभाजन के मुद्दे को सार्वजनिक चेतना के सामने लाने का श्रेय भी दिया गया।

गदर: एक प्रेम कथा एक क्लासिक हिंदी फिल्म है जिसका दर्शक आज भी आनंद लेते हैं। यह प्रेम, हानि और मुक्ति की कहानी है जो भारतीय इतिहास के सबसे अशांत कालखंडों में से एक की पृष्ठभूमि पर आधारित है। हिंदी सिनेमा के प्रशंसकों को यह फिल्म जरूर देखनी चाहिए।

ये भी पढ़े – जीब लपलपा जाएँ, क्या आप जलेबी और इमारती में अंतर को जानते है? (2023 with table) | 10 Difference Between Jalebi and Imarti

गदर 2 फिल्म के बारे में? (About Gadar 2 Film)

गदर 2 एक 2023 भारतीय हिंदी भाषा की पीरियड एक्शन ड्रामा फिल्म है, जो अनिल शर्मा द्वारा निर्देशित और निर्मित है, और शक्तिमान तलवार द्वारा लिखित है। 2001 की फिल्म गदर एक प्रेम कथा की अगली कड़ी, इस फिल्म में सनी देओल, अमीषा पटेल और उत्कर्ष शर्मा पहली फिल्म की अपनी भूमिकाओं को दोहरा रहे हैं। उनके साथ अनिल कपूर, स्वरा भास्कर, प्राची देसाई और सोनाक्षी सिन्हा जैसे नए कलाकार भी शामिल हुए हैं।

गदर 2, 1971 के भारत-पाकिस्तान युद्ध के दौरान पहली फिल्म की घटनाओं के 20 साल बाद की कहानी है। तारा सिंह (सनी देयोल) अपने बेटे चरणजीत (उत्कर्ष शर्मा) को भारत वापस लाने के लिए पाकिस्तान लौटता है। उनके साथ उनकी पत्नी सकीना (अमीषा पटेल) और उनकी बहू अमृता (सिमरत कौर) भी शामिल हैं।

फिल्म बदला लेने और देशभक्ति जैसे विषयों पर आधारित है। यह कहानी है कि कैसे तारा सिंह को अपने बेटे को भारत वापस लाने और अपने परिवार को युद्ध के खतरों से बचाने के लिए सभी बाधाओं को पार करने के लिए क्या करना  होगा।

गदर 2 11 अगस्त 2023 को रिलीज़ हुई। यह एक व्यावसायिक सफलता मानी जा रही है, जिससे बहुत अच्छे बिज़नेस की उम्मीद की जा रही है। फिल्म को 1971 के भारत-पाकिस्तान युद्ध के मुद्दे को सार्वजनिक चेतना के सामने लाने का श्रेय भी दिया गया।

गदर 2 एक सीक्वल है जो ओरिजिनल फिल्म ग़दर जितनी अच्छी है। यह एक अच्छी तरह से बनाई गई फिल्म है जो निश्चित रूप से हर उम्र के दर्शकों का मनोरंजन करेगी। यह हिंदी सिनेमा के प्रशंसकों और अच्छे एक्शन ड्रामा का आनंद लेने वाले किसी भी व्यक्ति के लिए अवश्य देखी जाने वाली फिल्म है।

ये भी पढ़े – डीयो और परफ्यूम में अंतर (2023 with table) | 15 Difference Between Deodorant and Perfume in Hindi

ग़दर और ग़दर 2 में अंतर (Gadar vs Gadar 2 in Hindi)

तुलना का आधार
Basis of Comparison

ग़दर
Gadar

ग़दर 2
Gadar 2

समयावधि
(Time period)

गदर 1940 के दशक पर आधारित है

जबकि गदर 2 1970 के दशक पर आधारित है।

शूटिंग
(Shooting)

ग़दर फिल्म मुख्यत: शिमला, अमृतसर और लखनऊ में फिल्माई गयी थी

ग़दर 2 फिल्म मुख्यत: पालमपुर, अहमदनगर, लखनऊ और इंदौर के पास मांडू में फिल्माई गयीहै

पात्र
(Characters)

ग़दर में अमरीश पुरी और लिलेट दुबे के साथ सनी देओल और अमीषा पटेल मुख्य भूमिका में हैं।

गदर 2 में दो नए पात्रों का परिचय दिया गया है, चरणजीत "जीते" सिंह (उत्कर्ष शर्मा) की पत्नी, अमृता (सिमरत कौर), और उनके बेटे, ज़ोरावर (गौरव चोपड़ा)।

कथानक
(Plot)

गदर तारा सिंह (सनी देओल) और सकीना (अमीषा पटेल) की कहानी बताती है, जो अपने धार्मिक मतभेदों के बावजूद प्यार में पड़ जाते हैं और शादी कर लेते हैं।

गदर 2 में कहानी 20 साल बाद की है, जिसमें तारा सिंह अपने बेटे को भारत वापस लाने के लिए पाकिस्तान जाता है।

विषय-वस्तु
(Themes)

गदर प्रेम, हानि और देशभक्ति के विषयों पर आधारित थी।

गदर 2 में बदला, देशभक्ति के साथ और रिडेम्पशन जैसे विषयों पर आधारित है।

एक्शन सीक्वेंस
(Action sequences)

गदर अपने एक्शन सीक्वेंस के लिए जाना जाता है, जिसे टीनू वर्मा ने कोरियोग्राफ किया था।

गदर 2 में और भी अधिक एक्शन सीक्वेंस होने की उम्मीद है, जिसे एलन अमीन ने कोरियोग्राफ किया है।

विजुअल इफेक्ट्स
(Visual effects)

गदर के विजुअल इफेक्ट्स उस समय की तकनीक द्वारा सीमित थे।

गदर 2 में अधिक उन्नत विजुअल इफेक्ट्स होने की उम्मीद है, जो कहानी को जीवंत बनाने में मदद करेगा।

संगीत
(Music)

गदर का संगीत अनु मलिक ने तैयार किया था।

गदर 2 का संगीत मिथुन ने तैयार किया है।

निर्देशक
(Director)

गदर का निर्देशन अनिल शर्मा ने किया था।

गदर 2 का निर्देशन भी अनिल शर्मा ने किया है।

रिलीज की तारीख
(Release date)

गदर 2001 में रिलीज हुई थी।

गदर 2023 में रिलीज हो रही है।

निष्कर्ष (Conclusion of Difference Between Gadar and Gadar 2 article)

एक दूसरे की अगली कड़ी होने के बावजूद, गदर और गदर 2 दो बहुत अलग फिल्में हैं। गदर भारत के विभाजन के दौरान सेट की गई एक प्रेम कहानी है, जबकि गदर 2 1971 के भारत-पाकिस्तान युद्ध के दौरान सेट की गई एक एक्शन ड्रामा है। दोनों फिल्मों के विषय भी अलग-अलग हैं, गदर प्रेम, हानि और मोचन के विषयों की खोज करती है, जबकि गदर 2 बदला, मोचन और देशभक्ति के विषयों की पड़ताल करता है।

अपने मतभेदों के बावजूद, गदर और गदर 2 दोनों अच्छी तरह से बनाई गई फिल्में हैं जो निश्चित रूप से हर उम्र के दर्शकों का मनोरंजन करेंगी। गदर एक क्लासिक हिंदी फिल्म है जिसका दर्शक आज भी आनंद लेते हैं, जबकि गदर 2 एक योग्य सीक्वल है जो निश्चित रूप से मूल के प्रशंसकों को खुश करेगा।

यदि आप इतिहास के अशांत समय की पृष्ठभूमि पर आधारित एक प्रेम कहानी की तलाश में हैं, तो गदर आपके लिए फिल्म है। यदि आप एक मजबूत देशभक्ति संदेश के साथ एक एक्शन ड्रामा की तलाश में हैं, तो गदर 2 आपके लिए फिल्म है।

अंततः, यह तय करने का सबसे अच्छा तरीका कि आप कौन सी फिल्म देखना चाहते हैं, उन दोनों को देखना है!

Leave a Comment