Difference between Hardware and Software 2021 in Hindi

Difference between Hardware and Software 2021 in Hindi

Difference between Hardware and Software 2021 in Hindi  – दोस्तों यदि आप कंप्यूटर का इस्तेमाल करते हैं तो आपने हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर के बारे में जरूर सुना होगा। हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर किसी भी कंप्यूटर सिस्टम के लिए सबसे महत्वपूर्ण होते है। कोई भी कंप्यूटर सिस्टम दो भागों में विभाजित होता है 1: हार्डवेयर, 2: सॉफ्टवेयर। दोनों ही एक दूसरे के बिना कार्य नहीं कर सकते है। तो दोस्तों यदि आप हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर से संबंधित जानकारी चाहते हैं तो आप बिल्कुल सही जगह पर आए हैं आज हम आपको इसी सवाल का जवाब देने वाले है।

तुलना सारणी

विवरणहार्डवेयर/Hardwareसॉफ्टवेयर/Software
अर्थएक कम्प्युटर में ऐसे उपकरण जिन्हे देखा या छूआ जा सकता है, को हार्डवेयर कहा जाता है।कम्प्युटर में सॉफ्टवेयर को देखा या छूआ नहीं जा सकता है क्योंकि यह एलेक्ट्रोनिक रूप में कम्प्युटर में संचित होते है।
कार्यइसका मुख्य कार्य सॉफ्टवेयर के निर्देशों का पालन करके, कार्य को करना और आउटपुट दिखाना होता है।इसका मुख्य कार्य हार्डवेयर को निर्देश देना और उपयोगकर्ता के निर्देशों का पालन करके कार्य को अंजाम देना होता है।
वाइरस से खतराहार्डवेयर को वाइरस से कोई खतरा नहीं होता है।इसका मुख्य कार्य हार्डवेयर को निर्देश देना और उपयोगकर्ता के निर्देशों का पालन करके कार्य को अंजाम देना होता है।
बदलाव की संभावनाइसमे बदलाव करने की ज्यादा संभावना नहीं होती है। हालांकि वर्तमान में बनने वाले कम्प्युटर में बदलाव करने की कुछ संभावना होती है।इसमे आप समय- समय पर बदलाव कर सकते है।
निर्माणइन का निर्माण एलेक्ट्रोनिक माध्यमों द्वारा किया जाता है।इन का निर्माण कोड और निर्देशों के व्यवस्थित संग्रह के माध्यम द्वारा किया जाता है।
निर्भरताहार्डवेयर, सॉफ्टवेयर के निर्देशों के बिना कोई कार्य नहीं कर सकता है।बिना हार्डवेयर के सॉफ्टवेयर का कोई महत्व नहीं रह जाता है।
स्थानांतरणइसे केवल भौतिक रूप से ही एक स्थान से दूसरे स्थान तक ले जाया जा सकता है।इसे नेटवर्क के माध्यम से कभी भी कहीं भी स्थानांतरित किया जा सकता है।
उदाहरणCPU, माऊस, मॉनिटर, कीबोर्ड इत्यादि।MS Word, Photoshop, My Computer इत्यादि।

हार्डवेयर क्या होता है?

What is Hardware/Hardware kya hota hai – किसी भी कंप्यूटर सिस्टम के भौतिक उपकरणों को हार्डवेयर कहा जाता है। भौतिक उपकरण वह उपकरण होते हें जिन्हें देखा या छुआ जा सकता है। मॉनिटर, माउस, कीबोर्ड, सीपीयू इत्यादि भौतिक उपकरणों के कुछ उदाहरण है। यह कंप्यूटर सिस्टम के प्राथमिक प्रत्यक्ष दिखाई देने वाले उपकरण होते हैं जिनका उपयोग किसी भी कंप्यूटर सिस्टम के भौतिक रूप को तैयार करने के लिए किया जाता है। इन्ही उपकरणों में सॉफ्टवेर की मदद से किसी कार्य को किया जाता है।

हार्डवेयर के प्रकार:

Types of Hardware/Hardware ke Prakar – दोस्तों हार्डवेयर मुख्य रूप से 4 प्रकार का होता है:

1. इंटरनल हार्डवेयर/Internal Hardware इंटरनल हार्डवेयर में कंप्यूटर के सभी ऐसे हिस्से आते हैं जो सामने प्रत्यक्ष रुप से दिखाई नहीं देते हैं। जैसे कि किसी भी कंप्यूटर का प्रोसेसर, रैम, रोम, मदरबोर्ड इत्यादि ऐसे हिस्से होते हैं जो प्रत्यक्ष रूप से सामने नहीं दिखाई देते हैं। इन्हें देखने के लिए हमें कंप्यूटर को खोलना पड़ता है। इसलिए इन्हे इंटरनल हार्डवेयर कहा जाता है।

2. एक्सटर्नल हार्डवेयर/External Hardwareएक्सटर्नल हार्डवेयर में कंप्यूटर के वह सभी हिस्से आते हैं जो प्रत्यक्ष रुप से दिखाई देते हैं। जैसे कि मॉनिटर, कीबोर्ड, माउस, सीपीयू इत्यादि। यही किसी कम्प्युटर की रूप रेखा होते है।

3. इनपुट डिवाइसेस/Input Devices – यह वह उपकरण होते जो आपके कम्प्युटर में सूचना भेजने का कार्य करते है। जैसे कि कीबोर्ड, माऊस इनपुट डिवाइसेस इत्यादि के उदाहरण है।

4. आउटपुट डिवाइसेस/Output Devices – इस में आईएसे उपकरण आते है जिनका मुख्य कार्य सूचना प्राप्त करके परिणाम दिखाना होता है। मॉनिटर, प्रिंटर इत्यादि आउटपुट डिवाइसेस के उदाहरण है।

सॉफ्टवेयर क्या होता है?

What is Software/Software kya hota hai – सॉफ्टवेयर निर्देशों, प्रक्रियाओं और कोड इत्यादि का एक ऐसा संग्रह होता है जिसका उपयोग कंप्यूटर सिस्टम पर विभिन्न प्रकार के कार्यों को करने के लिए किया जाता है। इसके बिना कोई भी कंप्यूटर सिस्टम कार्य नहीं कर सकता। किसी भी कंप्यूटर सिस्टम के कार्य करने के लिए उसकी हार्डवेयर के साथ-साथ सॉफ्टवेयर का भी उतना ही विशेष महत्व होता है। यह सॉफ्टवेर इन हार्डवेयर को सही रूप से कार्य करने का निर्देश देता है। 

सॉफ्टवेयर के प्रकार:

Types of Software/Software ke Prakar – सॉफ्टवेयर मुख्य रूप से चार प्रकार का होता है:

1. सिस्टम सॉफ्टवेयर/System Software – सिस्टम सॉफ्टवेयर का कार्य किसी भी कम्प्युटर के सिस्टम को चलाना होता है। यह सॉफ्टवेयर किसी भी कम्प्युटर के कार्य करने के लिए एक आधार होता है। इसके बिना किसी भी कम्प्युटर का कार्य करना असंभव है।

2. एप्लिकेशन सॉफ्टवेयर/Application Software – एप्लिकेशन सॉफ्टवेयर वह सॉफ्टवेयर होते है जिनका उपयोग किसी प्रकार के विशेष कार्य को करने के लिए किया जाता है। इस प्रकार के सॉफ्टवेयर को आप डाउनलोड करके कम्प्युटर मे चला सकते है। क्योंकि ऐसे बहुत से कार्य होते है जो सिस्टम सॉफ्टवेयर नहीं कर सकता है। ऐसे में इन एप्लिकेशन सॉफ्टवेयर को आप स्व्यम ही डाउनलोड करके इस्तेमाल कर सकते है।इनके बिना कम्प्युटर कार्य कर सकता है परंतु आजकल लगभग सभी कार्यों को करने के लिए एप्लिकेशन सॉफ्टवेयर का ही इस्तेमाल होता है। आप पढ़ रहे है – Difference between Hardware and Software 2021 in Hindi.

हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर में मुख्य अंतर

Main difference between hardware and software – मुख्य अंतर इस प्रकार से है –

  • हार्डवेयर किसी कम्प्युटर में भौतिक रूप में उपस्थित होते है इसलिए इन्हे देखा और छुआ जा सकता है। जबकि सॉफ्टवेयर एलेक्ट्रोइनिक रूप में उपस्थित होते है इसलिय इन्हे देखा तो जा सकता है पर छुआ नहीं जा सकता।
  • हार्डवेयर को फेकटोरियों में निर्मित किया जाता है। जबकि सॉफ्टवेयर को सॉफ्टवेर देवेलोपेर्स द्वारा कहीं भी बनाया जा सकता है।
  • हार्डवेयर का कार्य सॉफ्टवेयर द्वारा प्राप्त निर्देशों का पालन करके कार्य करना और परिणाम दिखाना होता है जबकि सॉफ्टवेयर का कार्य, उपयोगकर्ता के निर्देशानुसार हार्डवेयर को निर्देश देना होता है।
  • हार्डवेयर मुख्य रूप से चार प्राकर का होता  है – इंटरनल, एक्सटर्नल, इनपुट, आउटपुट। सॉफ्टवेयर 2 प्रकार का होता है – सिस्टम सॉफ्टवेयर और एप्लिकेशन सॉफ्टवेयर।
  • इसे केवल भौतिक रूप से ही एक स्थान से दूसरे स्थान तक स्थानांतरित किया जा सकता है। इसे एलेक्ट्रोनिक रूप से नेटवर्क के माध्यम के द्वारा कभी भी कहीं भी स्थानांतिरित किया जा सकता है।
  • कम्प्युटर वाइरस हार्डवेयर को कोई नुकसान नहीं पहुँचते है जबकि सॉफ्टवेयर को वाइरस से काफी खतरा रहता है।
  • हार्डवेयर के उदाहरण जैसे कि मॉनिटर, माऊस, कीबोर्ड, CPU इत्यादि है। सॉफ्टवेयर के उदाहरण जैसे कि MS Word, Photoshop, Camera, My Computer इत्यादि है।

ये भी पढ़े – मॉडेम और राऊटर में क्या अंतर है?

निष्कर्ष

Conclusion – दोस्तों हार्डवेयर आर सॉफ्टवेयर दोनों का ही किसी भी कम्प्युटर के सुचारु रूप से चलने में विशेष महत्व है। हार्डवेयर का कार्य सॉफ्टवेयर के निर्देशों का पालन करके सूचना ले कर कार्य का परिणाम दिखाना होता है। सॉफ्टवेयर का कार्य उपयोगकर्ता से निर्देश लेकर हार्डवेयर की सहायता से कार्य करना है।

उम्मीद करत हूँ की आप हार्डवेयर आर सॉफ्टवेयर क्या होता है और हार्डवेयर आर सॉफ्टवेयर में क्या अंतर है के बारे में इस आर्टिकल (Difference between Hardware and Software 2021 in Hindi) से  जान गए होंगे। यदि हमारे आर्टिकेल से जुड़ा कोई भी सवाल आपके मन में है तो आप हमसे कमेंट सेक्शन में पूछ सकते है। हम जल्दी से जल्दी आपके सवालों का जवाब देने का प्रयास करेंगे।

Leave a Comment